कोविड 19 के फैलते प्रभाव को रोकने के लिए सरकार द्वारा किये गये लोकडाउन की वजह से कई कंपनियों को मजबूरन अपने कर्मचारियों को घर से काम करने की मंजूरी देनी पड़ी थी। लेकिन ऐसा लगता है कि अब कंपनियां वर्क फ्रॉम होम को औपचारिक तौर पर अपनाने जा रही हैं। देश की सबसे बड़ी आईटी कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज के फिलहाल 90% कर्मचारी वर्क फ्रॉम होम कर रहे हैं और अब उसने योजना बनाई है कि साल 2025 तक उसके 75% कर्मचारी वर्क फ्रॉम होम करने लगेंगे।

आपको बता दे कि वर्तमान में टीसीएस में कुल 4.48 लाख कर्मचारी हैं। कंपनी की योजना के मुताबिक आगामी पांच सालो तक उसके कुल 75% यानी 3.5 लाख कर्मचारी वर्क फ्रॉम होम करने लगेंगे।

बिजनस टुडे की एक रिपोर्ट के मुताबिक, टीसीएस के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर एनजी सुब्रमण्यम ने कहा, ‘हम यह नहीं मानते कि 100% उत्पादकता के लिए हमारे 25% से अधिक कर्मचारियों को ऑफिस से काम करने की जरूरत है।’ नया मॉडल जिसे कथित तौर पर 25/25 कहा जा रहा है, उसके मुताबिक, आज की तुलना में कम ऑफिस स्पेस की जरूरत होगी। इस मॉडल के बारे में हाल में स्पष्टीकरण देते हुए कंपनी ने कहा, ‘भारत में काम करने वाले कर्मचारियों का आंकड़ा 3.5 लाख है और यह वैश्विक आंकड़ा नहीं है। टीसीएस वैश्विक स्तर पर यह बदलाव लाना चाहता है। हमारे कुल कर्मचारियों की संख्या 4.48 लाख है। यह मॉडल हम कोरोना वायरस महामारी के बाद ही अप्लाई नहीं करने जा रहे, बल्कि टीसीएस ऐसा 2025 तक करेगा।’