तिरंगे के रंग से रोशन हुआ मैटरहॉर्न पर्वत 

जिनेवा : स्विट्जरलैंड ने कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में भारत के प्रति एकजुटता प्रदर्शित करते हुए स्विज आल्प्स के मैटरहॉर्न पर्वत में रोशनी डाल कर भारतीय ध्वज उकेरा है। इसके जरिए भारत के सभी लोगों को ‘उम्मीद और हिम्मत’ का संदेश दिया गया है। स्विट्जरलैंड के रोशनी कलाकार (लाइट आर्टिस्ट) गैरी हॉफस्टेटर कोरोना वायरस से जूझ रहे देशों को उम्मीद बनाए रखने का संदेश देते हुए रात में विभिन्न देशों के ध्वज इस पर्वत पर रोशनी के जरिए उकेरते हैं। 4,478 मीटर ऊंचा यह पर्वत स्विट्जरलैंड और इटली के बीच स्थित है। पर्यटन संगठन जेरमैट मैटरहॉर्न ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा कि दुनिया में सबसे अधिक आबादी वाला देश भारत कोरोना वायरस संकट से जूझ रहा है। इतने बड़े देश में बहुत सारी चुनौतियां हैं। मैटरहॉर्न में भारतीय ध्वज सभी भारतीयों को उम्मीद और हिम्मत का संदेश देने तथा उनके प्रति एकजुटता दिखाने के लिए हैं। स्विट्जरलैंड में भारतीय दूतावास ने ट्वीट किया कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में एकजुटता दिखाने के लिए 1000 मीटर से भी बड़े आकार का भारतीय तिरंगा मैटरहॉर्न पर्वत पर उकेरा गया। इस कदम के लिए जेरमैट टूरिज्म आपका शुक्रिया। वहीं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस ट्वीट को साझा करते हुए लिखा कि पूरी दुनिया साथ मिल कर कोरोना से लड़ रही है। यकीनन मानवता इस महामारी से जीतेगी। गौरतलब है कि ऐसे वक्त में जब पूरी दुनिया कोरोना वायरस से जूझ रही है स्विट्जरलैंड उम्मीद और प्यार का संदेश दे रहा है। मार्च के अंत से यहां पर्वत पर विभिन्न देशों के ध्वज उकेरे जा रहे हैं।