सीधा प्रसारण यू ट्यूब चैनल https://www.youtube.com/user/spicmacay
पर होगा

विगत 42 वर्षो से स्पिक मैके, किशोरों और युवाओ मे, भारतीय विरासत के विभिन्न पहलुओं के बारे में जागरूकता बढ़ाकर और इसमें निहित मूल्यों को आत्मसात करने के लिए युवा मन को प्रेरित करके औपचारिक शिक्षा की गुणवत्ता को समृद्ध करने का प्रयास कर रहा है।

वर्तमान कोविड 19 संकट के दौरान एक विशेष सत्र “स्पिक मैके अनुभव” के अंतर्गत शास्त्रीय संगीत, नृत्य व अन्य कला विधाओं की श्रेठतम विभूतियों के माध्यम से किशोरों और युवाओं को रचनात्मक भाव से जोड़ने का ऑनलाइन प्रयास कर रहा है। स्पिक मैके अनुभव की एक श्रृंखला 01 जून – 07 तक प्रस्तावित है, जिसका सीधा प्रसारण हमारे यू ट्यूब चैनल https://www.youtube.com/user/spicmacay पर होगा। यह कार्यक्रम हमारी साल भर चलने गतिविधियो का एक विशेष हिस्सा है, जिसमे विश्व प्रसिद्ध कला गुरु जैसे पंडित हरिप्रसाद चौरसिया, उस्ताद शहीद परवेज़, श्रीमती तीजन बाई, उस्ताद अमजद अली खान, पंडित शिव कुमार शर्मा, श्रीमती शबाना आज़मी, उस्ताद बहाउद्दीन डागर, उस्ताद वासिफुद्दीन डागर, श्रीमती रोहिणी हतंगड़ी, बेग़म परवीन सुल्ताना, श्रीमती कपिला वेणु, श्री जावेद अख्तर, ऑन लाईन लाइव यू ट्यूब पर 1 -7 जून तक घर बैठे ही एक आश्रम जैसी दिनचर्या में रहते हुए विभिन्न कार्यक्रमों से माध्यम से जैसे – शास्त्रीय संगीत, नृत्य, इंटेसिव, कार्यशाला, वार्ता, नाद योग, हठ योग, थियेटर एवं लोक कलाओं द्वारा भारतीय सांस्कृतिक विरासत एवं कलाओ से किशोरों और युवाओ को जोड़ने का प्रयास करेंगे।

कृपया अपने संस्थान को निम्न लिंक पर 20 मई 2020 से पहले रजिस्टर करें और इस अनूठे ‘अनुभव’ हेतु अपना और अपने संस्थान का स्थान सुनिश्चित करें। प्रथम आओ के आधार पर चयनित सुपात्र छात्रों एवं छात्राओं को गुरूओं के सानिध्य में वर्चुअल कार्यशाला में प्रतिभाग करने का अवसर मिलेगा।
https://spicmacay.org/convention/anubhav/registration