BY: Suneet Bhatnagar (Kanpur)

एक बाइक मैकेनिक बाइक रिपेयरिंग का काम छोड़कर डॉक्टर बन गया ,और क्लीनिक खोलकर बैठ गया,उसके पास मरीज भी आने लगे ,लेकिन उसका बात करने का लहजा वही मकैनिक वाला ही रहा। मरीज- जी डॉक्टर साब मैं शुगर का पेशेंट हूँ,पेट भी ख़राब रहता है,चलते चलते थक जाता हूँ कुछ अच्छी सी दवा दे दीजिये।। डॉक्टर- अच्छा इसका मतलब तुम्हारी पूरी बॉडी की सर्विस करनी पड़ेगी। मरीज़-जी सर्विस मतलब। डॉक्टर- मतलब एक एक पार्ट चेक करना होगा ,ये बताओ की दिन में कितनी बार धुँआ छोड़ते हो। मरीज़- जी धुंए से मतलब। डॉक्टर- अरे मतलब हवा पास होती है की नहीं । मरीज-जी हवा तो दिन भर पास होती रहती है। डॉक्टर-चलो ये अच्छी बात है,और एवरेज क्या दे रहे हो। मरीज-(हैरानी से ) जी कैसा एवरेज । डॉक्टर- आई मीन तुम्हारी उम्र क्या है।। मरीज-जी 75 साल।। डॉक्टर- कमाल है सारे नट बोल्ट ढीले होने के बाद भी इतना पुराना मॉडल अभी तक मार्केट में चल रहा है,अच्छा ये बताओ की आखरी बार आयल कब चेंज करवाया था। मरीज- जी ऑयल मैं समझा नहीं ।। डॉक्टर- अरे कहने का मतलब आखरी बार चेकअप कब कराया था। मरीज- जी करीब 1 साल हो गया है। डॉक्टर- अमा तुम भी गजब करते हो यार,एक साल से बिना आयलिंग ग्रीसिंग और वाशिंग के तुम अपने आप को सड़क पे दौड़ा रहे हो,अब तक तुम्हारे दोनों ब्रेक शू भी घिस गए होंगे, क्या चश्मा लगाते हो। मरीज- जी चश्मा तो कई साल से लगा रहा हूँ। डॉक्टर- हुम्म, तो इसका मतलब तुम्हारे दोनों इंडिकेटर भी कमज़ोर हो चुके है,और इतने पुराने मॉडल में हेडलाइट तो वैसे भी काम नहीं करती है,कोई रिपोर्ट साथ लाये हो क्या।। मरीज- जी हाँ ये लीजिये । डॉक्टर- देखो तुम्हारी रिपोर्ट ये साफ़ बता रही है की तुम्हारी शुगर सौ किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड से भाग रही है,जिसकी वजह से तुम्हारी दोनों क्लच प्लेटें भी कमज़ोर हो गयी है । मरीज- जी ये क्लच प्लेट क्या होती है। डॉक्टर-मतलब दिनों किडनियां वीक हो गयी है,ध्यान से सुनो तुम कोई भी मीठी चीज़ नहीं खाओगे ,और न ही किसी भी तरह की मीठी मीठी बातें करोगे,और ये बताओ की कुछ वजन उठा पाते हो।। मरीज-जी मैं तो अपना वजन भी नहीं सह पाता हूँ। डॉक्टर- इसका मतलब ये हुआ की तुम्हारा पिस्टन भी या तो बदलना पड़ेगा या नयी रिंग डालनी पड़ेगी,दिन में पानी कितना पीते हो।। मरीज- जी पानी तो बहुत कम पीता हूँ। डॉक्टर- तभी तो मैं कहूँ की पूरी की पूरी टंकी क्यों सूखी पड़ी है ,चलो ठीक है मैं मैंने तुम्हारी पूरी रिपोर्ट देख ली है मेरी कोशिश होगी की ये बॉडी कबाड़ में न बिके तुम बिलकुल ठीक हो सकते हो,एकदम जवान हो जाओगे,लेकिन ये समझ लो की पैसा दस हज़ार लगेगा। मरीज-दस हज़ार तो बहुत ज्यादा है । डॉक्टर- कोई ज्यादा नहीं है,जरा ये भी तो सोचो की पूरा इंजन खोलना पड़ेगा,नयी पैकिंग पड़ेगी,सारे पुराने वायर बदले जायेंगे,चैन spakit बदलेगा,दो दिन बाद आ जाना ,भर्ती कर लेंगे कायदे से खोल कर ठीक से बाँध देंगे,और नयी किक लगाकर स्टार्ट कर देंगे,उसके बाद दिन भर यही खड़े रहकर भुक भुक करते रहना,फिर आराम से घर चले जाना और कुछ दिन तक सिंगल ही चलना।मरीज़- धन्यवाद् डॉक्टर साब लेकिन कभी कभी खांसी भी आती है। डॉक्टर-वो कोई बड़ी बात नहीं कभी कभी कार्बोरेटर में कचरा फँस जाता है उसे निकाल देंगे ,अब जाओ।